वेलेंटाइन स्पेशल कविता-आओ एक हो जाएं-डॉ सत्यम - खबरदार जमुई

Breaking

Chat With Us

Thursday, February 7, 2019

वेलेंटाइन स्पेशल कविता-आओ एक हो जाएं-डॉ सत्यम


आओ एक हो जाएं,
रहे न अब कोई दूरी,
रहे न कोई फासले,
आओ एक हो जाए....

मुकद्दर हम लिखे अपना,
चलो कुछ ऐसा कर जाएं,
मुहब्बत के हम दीवाने,
नया इतिहास लिख जाएं,
कि आओ एक हो जाएं...

मिले हैं हम नसीबों से,
कुछ अपनी याद दे जाएं,
शिकायत नहीं रब से हमें अब तो,

कि आओ एक हो जाएं...

जुदा न हो कभी हम दोनों,
यही फरियाद कर जाए,
कभी जो साथ छूटे जो,
उससे पहले हम मर जाएं,
कि आओ एक हो जाएं... 
लेखक पेशे से दिल्ली में डॉक्टर हैं।

No comments:

Post a Comment